महाराज छत्रसाल की स्मृति को अक्षुण्ण रखने छतरपुर में बनेगा विशाल स्मारक : मुख्यमंत्री चौहान

shivraj-singh-chuhan-news

 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि महाराज छत्रसाल की स्मृति को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिये छतरपुर में उनका विशाल स्मारक बनाया जायेगा। छतरपुर नगरपालिका को नगर निगम बनायेंगे। जिले के विकास में कोई कोर-कसर छोड़ी नहीं जायेगी। उन्होंने कहा कि छतरपुर मेडिकल कॉलेज के पुराने टेंडर को निरस्त कर नये टेंडर के आदेश दिए गए हैं। जल्द ही छतरपुर में 300 करोड़ रूपये की लागत से नवीन मेडिकल कॉलेज के भवन का निर्माण किया जायेगा। मुख्यमंत्री आज छतरपुर के गौरव दिवस और महिला सम्मेलन में शामिल हुए। उन्होंने छतरपुर जिले को अनेक सौगातें देते हुए 790 करोड़ रूपये के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमि-पूजन किया।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि महाराजा छत्रसाल महान योद्धा और शौर्य के प्रतीक थे। उन्होंने हिन्दू स्वराज को स्थापित किया। ऐसे शूरवीर और महापुरुष से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि छतरपुर मेडिकल कॉलेज का निर्माण जिस ठेकेदार द्वारा काफी लम्बे समय से प्रारंभ नहीं किया था उसका टेंडर निरस्त कर दिया गया है। अब नये टेंडर के आदेश दिये गये हैं। शीघ्र ही छतरपुर में मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि एक समय था जब बेटियों को बोझ समझा जाता था। प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी योजना ने समाज की सोच को बदल कर बेटी को वरदान बना दिया है। महिला सशक्तिकरण के लिये प्रदेश में अभियान चल रहा है। अनेक योजनाओं से उन्हें आत्म-निर्भरता की ओर अग्रसर किया जा रहा है। हमने स्थानीय चुनावों में आधी सीटें महिलाओं के लिये आरक्षित की हैं, जिसके फलस्वरूप बड़ी संख्या में महिलाएँ आज पंच, सरपंच, पार्षद आदि पदों पर विराजमान है। बेटियों और महिलाओं के महत्व को बढ़ाने के लिये मध्यप्रदेश में सामाजिक क्रांति हुई है। महिलाओं के नाम संपत्ति खरीदने पर पंजीयन शुल्क में छूट दी गई है। प्रधानमंत्री आवास पति-पत्नि दोनों के नाम से है। भू-अधिकार पट्टे भी पति-पत्नि के नाम से दिये जा रहे हैं। मध्यप्रदेश सरकार ने गरीब बहनों के आर्थिक सशक्तिकरण के लिये लाड़ली बहना योजना को लागू कर प्रदेश की सवा करोड़ बहनों के खाते में एक-एक हजार रूपये 10 जून से डालने का ऐतिहासिक निर्णय लिया गया है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 8 जून को प्रदेश में विशेष ग्रामसभाएँ होगी, जिसमें पात्र बहनों के नाम बताये जायेंगे। स्वीकृति-पत्र घर पहुँचाया जाएगा। उन्होंने लाड़ली बहनों से कहा कि वे 9 जून की शाम गाँव में गीत गाये, उनके खाते में पैसा आने वाला है। सभी गाँवों में 10 जून की शाम 5 बजे कार्यक्रम होंगे और शाम 6 बजे मैं स्वंय महिलाओं से वर्चुअली चर्चा करूँगा। उसके बाद बहनों के खातों में योजना की राशि अंतरित की जायेगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक ग्राम एवं वार्डों में लाड़ली बहना सेना का गठन होगा। छोटे गाँव में 11 तथा बड़े गाँव में 21 बहनों की सेना बनेगी। उन्होंने कहा कि मेरा प्रयास है कि आजीविका मिशन के स्व-सहायता समूहों की बहनों की आय प्रतिमाह 10 हजार हो। इन प्रयासों के चलते हमारी बहुत सी बहनें लखपति क्लब में शामिल हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि शराब की दुकान के साथ लगे अहाते बंद करने का निर्णय लिया जा चुका है। कक्षा 12वीं में ज्यादा नम्बर लाने वाली बालिकाओं को स्कूटी देने का निर्णय भी लिया गया है। गरीबों को पीएम आवास और जमीन का पट्टा देकर जमीन का मालिक बनाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की धरती पर आतंकवाद नहीं पनपने दिया जाएगा। आतंकवाद की गतिविधियों में लिप्त लोगों को जेल भेजा गया है। दमोह में एक स्कूल की घटना पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि मामले की जाँच कराई जा रही है, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्ज माफी नहीं होने से जो किसान डिफाल्टर हो गये थे, उनके ब्याज की राशि राज्य सरकार द्वारा भरी जायेगी। केन-बेतवा लिंक परियोजना से बुन्देलखण्ड क्षेत्र में सिंचाई क्रांति आयेगी।

जिले के प्रभारी और राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि राज्य सरकार ने छतरपुर के साथ कभी भेदभाव नहीं किया। हमेशा छतरपुर और सागर सहित पूरे बुंदेलखंड के विकास के लिए अनेक योजनाएँ दी हैं। उन्होंने कहा कि सागर में केंद्रीय विश्वविद्यालय बनने के बाद छतरपुर में महाराजा छत्रसाल विश्वविद्यालय को राज्य स्तरीय विश्वविद्यालय बनाया गया है। आज 5 करोड़ 12 लाख रुपए की लागत से भवन का लोकार्पण किया गया है। उन्होंने कहा कि छतरपुर के लिए आज का दिन ऐतिहासिक और गौरवशाली है। आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 300 करोड़ रूपए की लागत से मेडिकल कॉलेज का कार्य प्रारंभ करने के निर्देश दिए हैं।

खजुराहो सांसद विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की चिंता थी कि बुंदेलखंड को कैसे पानी के क्षेत्र में समस्या मुक्त बनाया जाए। इसी बात को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कार्य-योजना तैयार कर केन-बेतवा लिंक परियोजना को मंजूरी दी है। परियोजना से संपूर्ण बुंदेलखंड की एक-एक इंच जमीन सिंचित होगी। शर्मा ने कहा कि बुंदेलखंड कर्मशील लोगों की भूमि है। मुख्यमंत्री चौहान ने लाड़ली बहना योजना प्रारंभ की है, जो देश में पहली ऐसी योजना है जिससे हमारी बहनें आर्थिक रूप से सक्षम होगी। मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता के कारण ही आज संपूर्ण मध्य प्रदेश का विकास हो रहा है और रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं।

प्रतिभाओं का सम्मान

गौरव दिवस पर मुख्यमंत्री चौहान ने जिले की प्रतिभाओं को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम स्थल पर स्व-सहायता समूह की महिला सदस्यों, उद्योग, उद्यानिकी, महिला-बाल विकास, आयुष, वन विभाग सहित अन्य विभागों द्वारा लगाई गई उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन किया। स्थानीय कलाकारों ने दिवारी, लोक नृत्य, लोक गायन, लोक नाट्य और आल्हा गायन की प्रस्तुति दी। खिलाड़ियों ने मलखंब का प्रदर्शन किया। प्रारंभ में मुख्यमंत्री ने अतिथियों के साथ महाराजा छत्रसाल की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कन्या-पूजन भी किया। मुख्यमंत्री को पूर्व मंत्री श्रीमती ललिता यादव के नेतृत्व में लाड़ली बहनों ने 35 मीटर लंबी चुनरी एवं बड़ी राखी भेंट की। जन-प्रतिनिधि, बड़ी संख्या में लाड़ली बहनें एवं जन-समुदाय उपस्थित रहा।

 



Contact List Chief Electoral Officer (CEO) Madhya Pradesh





madhya pradesh assembly constituency name list

Digital Marketing Consultant in Kolar road Bhopal - 8305411120



Previous articleअविका गौर की फिल्म ‘1920 हॉरर ऑफ द हार्ट’ का ट्रेलर रिलीज
Next articleमध्य प्रदेश में अब सड़कों पर हुए गड्ढों को भरे के लिए नई तकनीक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here