राजस्थान पहुँचे शिवराज कांग्रेस सरकार को कोसा, कांग्रेस ने कहा माफी मांगना चाहिए उन्हें

 

मंगलवार को राजस्थान दौरे पर पहुँचे पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए लिखा कि झालावाड़ की पवित्र धरती पर आकर मन प्रसन्नता से भरा है लेकिन तकलीफ भी है क्योंकि राजस्थान व मध्यप्रदेश दोनों ही राज्यों में आमजन परेशान हैं। कांग्रेस सरकार में चारों तरह हाहाकार मचा हुआ है।

किसानों की कोई सुध नहीं ले रहा है, जिम्मेदार लोग अपनी-अपनी ज़ेब भरने में लगे हुए हैं।

एक वीडियो भी जारी किया जिसे आप देख सकते है। शिवराज ने प्रदेश सरकार पर कई आरोप लगाए।

 

कांग्रेस सरकार को कोस प्रदेश की छवि खराब कर रहे हैं , इसके लिए उन्हें तत्काल माफी माँगना चाहिये – नरेंद्र सलूजा

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया कि प्रदेश के 13 वर्ष रहे मुख्यमंत्री रहे ,पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अभी राजस्थान के कोटा व झालावाड़ दौरे पर हैं। इस दौरान वहां पर वे विभिन्न कार्यक्रमों में और मीडिया से चर्चा के दौरान झूठ परोस कर मध्यप्रदेश की वर्तमान कांग्रेस सरकार की छवि खराब करने का काम कर रहे हैं जो कि बेहद निंदनीय है।इसके लिए उन्हें तत्काल माफी मांगना चाहिए।
सलूजा ने बताया कि यह सच है कि शिवराज सिंह जी को सुर्खियों में रहने की व अखबारों में छपने की आदत है लेकिन इसके लिए जो रास्ता वे चुन रहे है वो बेहद निंदनीय है।यदि उन्हें राजनीतिक बयानबाजी करना है या प्रदेश सरकार को कोसना है तो उसके लिए वो प्रदेश का उपयोग कर सकते है लेकिन पड़ोस के प्रदेश में जाकर और वह भी झूठ परोसकर ,वो प्रदेश सरकार की छवि राजस्थान की जनता के सामने खराब कर रहे हैं।प्रदेश की गलत तस्वीर राजस्थान की जनता के सामने रख रहे है ,जो की पूरी तरह से ग़लत है।

राजस्थान में जाकर मध्यप्रदेश में किसानों की कर्ज माफी को लेकर वे झूठ परोस रहे है कि एक भी किसान का कर्ज माफ नहीं हुआ।जबकि सच्चाई वह बखूबी जानते हैं कि प्रदेश में अभी तक पहले चरण में ही 21 लाख किसानों का कर्ज माफ हो चुका है और दूसरे चरण में 12.50 लाख किसानों का कर्ज माफ होना है ,जिसकी प्रक्रिया चालू है।क़र्ज़ माफ़ी के पहले चरण में खुद उनके परिजनों का कर्ज माफ हुआ है , जिसकी सूची कांग्रेस के नेताओं ने खुद उनको उनके घर जाकर मीडिया के समक्ष सौंपी थी।जिसमें कर्ज माफी का विस्तृत विवरण था लेकिन उसके बाद भी राजस्थान में जाकर वह यह झूठ परोस रहे है कि प्रदेश में एक भी किसान का 1 रुपये का भी कर्ज माफ नहीं हुआ है।
सलूजा ने बताया कि वह राजस्थान में जाकर भावंतर योजना का नाम लेकर खुद की प्रशंसा कर रहे हैं।उन्हें वहाँ यह सच्चाई भी बताना चाहिए कि इस योजना का 1000 करोड़ रूपया केंद्र की भाजपा की सरकार मध्यप्रदेश को बार-बार मांगने के बावजूद नहीं दे रही है।वे राजस्थान जाकर प्राकृतिक आपदा की बात कर रहे हैं और झूठ परोस रहे है कि किसानो को अभी तक राहत राशि नहीं मिली लेकिन उन्हें यह सच्चाई भी बताना चाहिए थी कि बार-बार आग्रह के बावजूद केंद्र की भाजपा सरकार ने 6621 करोड़ में से अभी तक 1000 करोड़ रुपए की आपदा राशि ही मध्य प्रदेश सरकार को अभी तक दी है और 5621 करोड़ रुपए की राशि अभी तक बाकी है , जिसके कारण किसानों को पूरी राहत राशि नहीं मिल पा रही है।
वह राजस्थान जाकर प्रदेश में खाद- यूरिया का संकट बता रहे हैं ,उन्हें यह सच्चाई भी बताना चाहिए कि प्रदेश में यूरिया का कोई संकट नहीं है।उनकी केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा प्रदेश सरकार द्वारा मांगे गए 18 लाख मिट्रीक टन के कोटे में से 2 लाख 60 हज़ार मिट्रीक टन की कमी कर दी गई है , जिससे किसानों को परेशान किया जा सके।
इस सच्चाई को भी उन्हें राजस्थान की जनता को बताना था।
सलूजा ने कहा कि राजस्थान की जनता के सामने झूठ परोसकर प्रदेश सरकार की छवि खराब करने के लिए शिवराज सिंह जी को तत्काल प्रदेश के 7.50 करोड़ जनता से माफी मांगना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here