200 से ज्यादा निर्माण लाल निशान की चपेट में, लोगों ने स्वयं निर्माण हटाना शुरू किया

भोपाल। राजधानी भोपाल के उपनगर कोलार और चूनाभट्टी से गुजरने वाले सबसे लंबे सिक्स लेन सड़क प्रॉजेक्ट में 200 से ज्यादा के अतिक्रमण टूटेंगे। इनमें मैरिज गार्डन, होटल की बाउंड्रीवॉल, दुकानें- गुमटिया शामिल है। लाल निशान लगी सीमा में आ रही रहे बाउंड्रीवॉल और दुकानें तोड़ें जाएंगे। अभी कई जगह 10 फीट तक कब्जा है। वही आवश्यकता अनुसार 17 से 18 फिट तक कई जगह लाल निशान लगे है। प्रोजेक्ट 222 करोड़ रुपए का है। जिसका भूमिपूजन 29 अक्टूबर को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कर चुके हैं। कुल 15.10 किलोमीटर लंबे सिक्स लेन में मुख्य सर्व-धर्म ब्रिज के साथ 24-27 अन्य छोटी-बड़ी पुल-पुलियाएं भी बनेंगी। सबसे पहले अतिक्रमण हटाया जा रहा है नयापुरा में जेसीबी से तोड़फोड़ भी शुरू हो गई है। यहां 2 मैरिज गार्डन की बाउंड्री तोड़ दी गई है।

व्यापारियों के गुस्से का कांग्रेस नहीं कर पा रही है राजनीतिकरण

कोलार रोड के गोलजोड़ से डी-मार्ट तक कार्य तेजी से चल रहा है। यहां आबादी क्षेत्र सड़क किनारे कम है। वही सर्वधर्म, मंदाकिनी, बीमाकुज, कान्हाकुंज, सीआई चौराहा, चूनाभट्टी एरिया, नयापुरा, ललितानगर, गेहूखेड़ा नहर की पुलिया समेत करीब 100 कॉलोनिया बसी है। यहां के लोग इसी रोड से आना-जाना करते हैं। बढ़ती आबादी के साथ अब सड़क काफी छोटी पड़ने लगी है। अवसर जाम की स्थिति बन जाती है। वहीं, बारिश में सड़क पूरी तरह से जर्जर हो जाती है। इस बार भी ऐसी ही तस्वीर नजर आ रही है। इसलिए रोड की चौड़ाई की मांग लंबे समय से की जा रही थी। लिहाजा, जनता की मांग पर सीएम ने सिक्स लेन प्रोजेक्ट की मंजूरी दी।

व्यापारियों में है गुस्सा

बाउंड्रीवॉल और दुकानें हटाई जा रही है। अस्पताल, होटल, शोरूम, आटोमोबाइल वर्क शॉप, सहित अनेक फ्लैटों के ग्राउंड फ्लोर के खंबे लाल निशान की सीमा में है अफसरों से मिली जानकारी अनुसार नवंबर-दिसंबर में सभी अतिक्रमण तोड़े जाएंगे। इसके बाद सड़क बनेगी। अस्थायी अतिक्रमण जैसे गुमटिया, शेड, सब्जी दुकानें आदि भी है। इन्हें भी हटाया जा रहा है। जिस कारण प्रभावित हो रहे अनेकों व्यापारियों और उनमें निवास कर रहवासियों में गुस्सा है उनकी शिकायत है बिना नोटिस के तोड़फोड़ की जा रही है। वही इस पूरे मुद्दे पर कांग्रेस उनके साथ खड़ी नहीं हो रही है।

News kolar bhopal

वही अधिकारियों ने चर्चा में स्पष्ट कहा रहे है की जब दुकानदार, गार्डन वाले, रहवासी स्वयं सड़क की सीमा में आ निर्माण हटा रहे है। अगर कोई विरोध करता है तो नोटिस देकर निर्माण हटवाया जायेगा। अभी तक कहीं कोई विवाद की स्थिति नहीं बनी है।

वही, कांग्रेस नेता नरेश ज्ञानचंदानी का कहना है मामला राजनीति करने का नहीं विकास का है, जल्दबाजी में भाजपा ने निर्माण कार्य शुरू कर दिया है। फ्लाईओवर बनाकर जाम की समस्या का समाधान किया जा सकता था। बिना जनता की राय से काम हो रहा है। कई व्यापारियों को रोजगार प्रभावित हो रहा है। उनके लिए मुआवजे का प्रावधान होना चाहिए था जिसे भाजपा सरकार नकार रही है।

Click Here For Latest Kolar News (Dr Shyama Prasad Mukherjee Nagar) Bhopal

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here