बयान से थे नाराज पटवारी, अब 6 महीने में वेतन बढ़ेगा आश्वासन मिलते ही हड़ताल ख़त्म

बयान से थे नाराज पटवारी, अब 6 महीने में वेतन बढ़ेगा आश्वासन मिलते ही हड़ताल ख़त्म

राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने पटवारियों से कहा कि प्रदेश में इस बार अतिवृष्टि से किसान परेशान है. यह समय पटवारियों के लिए आंदोलन का नहीं, किसानों के खेत में जाकर फसलों के हुए नुकसान का आकलन करने का है. उन्होंने कहा जहां तक आपकी मांगों की बात है उसके लिए मैं मुख्यमंत्री जी को पत्र लिख रहा हूं.

 

क्या था मामला ?

दरअसल मंत्री जीतू पटवारी के रंगवासा में आपकी सरकार-आपके द्वार कार्यक्रम में मंच पर दिए बयान से नाराज पटवारी संघ ने चेतावनी दी थी कि मंत्री यदि सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगते तो 3 अक्टूबर से पटवारी हड़ताल पर चले जाएंगे और जब इसकी मियाद खत्म हो गयी तो पटवारी हड़ताल पर चले गए थे.

मंत्री गोविंद सिंह ने समझाया तो हड़ताल ख़त्म कर काम पर लौट गए पटवारी

patwari

पटवारी संघ ने मंत्री गोविंद सिंह से मुलाकात के बाद हड़ताल खत्म हो गई है। राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने अपने बयान में कहा है कि किसानों के साथ पटवारी भी पूरी तरह खड़े हैं। उन्होने कहा कि वेतनमान की मांग का ड्राफ्ट बना कर सीएम को भेजेंगे। इसके बाद ही 6 महीने में वेतन बढ़ेगा। वहीं मंत्री जीतू पटवारी के खेद व्यक्त करने के बाद पटवारियों की हड़ताल खत्म हो गए हैं।

पटवारी संघ ने मंत्री गोविंद सिंह से मुलाकात कर मामले को समझा है, किसानों के हित में वे अब दुगुने गति से काम करेगें। बता दें कि बीते चार दिनों से पटवारियों की हड़ताल चल रही थी। राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि पटवारी संघ ने बात को समझा कि प्रदेश में अतिवृष्टि हुई है, ऐसे में सरकार के साथ ही इस आपदा में पटवारी भी खड़े हैं, हमारी बात इनसे हुई है।

राजस्व मंत्री ने कहा कि उनकी वचन पत्र की मांग को पूरा करने का आश्वासन दिया गया है, हमने सीएम से आग्रह किया है कि पटवारियों के वेतन संबंधी मांग 6 माह के अंदर पूरी हो जाए। वहीं मंत्री जीतू पटवारी ने इस मामले में खेद जताया है। उन्होंने कहा है कि मेरी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नही है, मेरी भावना गलत नही थी। मंत्री जीतू पटवारी ने ट्वीट कर माफी मांग ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here